देश

काशी में 10 साल में विकास का डमरू बजा

Drum of development played in Kashi in last 10 years ​

वाराणसी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी के दौरे पर हैं। पीएम मोदी गुरुवार रात 10 बजे यहां पहुंचे। पीएम मोदी यहां विभिन्न कार्यक्रमों में हिस्सा ले रहे हैं। इस दौरान अपने 10 साल के कार्यकाल का हिसाब-किताब भी दे रहे हैं।
वाराणसी में काशी सांसद संस्कृत प्रतियोगिता के पुरस्कार वितरण समारोह के अवसर पर कहा, काशी तो सर्वविद्या की राजधानी है, आज काशी का वो सामर्थ्य और स्वरूप​ फिर से संवर रहा है। ये पूरे भारत के लिए गौरव की बात है।
पीएम मोदी ने बीएचयू के स्वतंत्रता भवन में विभिन्न कार्यक्रमों के दौरान मेधावियों व शिक्षकों, संत रविदास मंदिर में पंजाब व अन्य प्रदेशों से आए दर्शनार्थियों व करखियांव एग्रो पार्क में पूर्वांचल की जनता को संबोधित किया।
संत रविदास की जयंती पर आयोजित कार्यक्रम में पीएम मोदी ने कहा- भारत का इतिहास रहा है, जब भी देश को जरूरत हुई है, कोई न कोई संत, ऋषि, महान विभूति भारत में जन्म लेते हैं। संत रविदास जी तो उस भ​क्ति आंदोलन के महान संत थे, जिन्होंने कमजोर और विभाजित हो चुके भारत को नई ऊर्जा दी थी।
चुनावी वर्ष को देखते हुए 10 साल की उपलब्धियां भी जनता के सामने रख रहे हैं। एग्रो पार्क परिसर से 13202.07 करोड़ रुपये की 36 परियोजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास करेंगे। इसमें अमूल प्लांट समेत 11007 करोड़ की 24 परियोजनाओं का लोकार्पण व 2195.07 करोड़ रुपये की 12 परियोजनाओं का शिलान्यास शामिल हैं।
बाबतपुर एयरपोर्ट पर पीएम का स्वागत मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, उपमुख्यमंत्री ब्रजेश पाठक व जनप्रतिनिधियों ने किया। पीएम सड़क मार्ग से बरेका गेस्ट हाउस के लिए रवाना हुए। रात में भी उनकी एक झलक पाने के लिए 30 किलोमीटर के रूट पर लोग सड़क के दोनों ओर खड़े थे। अयोध्या में रामलला की प्राण प्रतिष्ठा के बाद पहली बार काशी पहुंचे पीएम की अगवानी में जयश्रीराम का उद्घोष भी गूंजा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button