bhopal news

पत्रकारों को सुविधा, पत्रकारिता को प्रोत्साहन देंगी मुख्यमंत्री शिवराज की घोषणाएंः सांसद विष्णुदत्त शर्मा

Bhopal BJP News: BJP के प्रदेश अध्यक्ष व सांसद विष्णुदत्त शर्मा ने पत्रकारों के लिए की गई घोषणाओं पर मुख्यमंत्री का आभार जताते हुए कहा कि लोकतंत्र के एक स्तंभ के रूप में पत्रकारिता BJP के लिए हमेशा से सम्माननीय रही है और पार्टी की इस सोच की झलक भाजपा की सरकारों की नीतियों में भी दिखाई देती है।

शर्मा ने कहा कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की सरकार शुरू से ही पत्रकारों और पत्रकारिता के हितों के प्रति संवेदनशील रही है और उनकी सरकार ने पत्रकारों के हित में अनेक कदम उठाए हैं। इसी क्रम में मुख्यमंत्री ने गुरुवार को जो घोषणाएं की हैं, निश्चित रूप से उनसे पत्रकारों को सुविधाएं मिलेंगी साथ ही स्वस्थ पत्रकारिता को भी प्रोत्साहन मिलेगा। आज राजधानी भोपाल में विष्णुदत्त शर्मा से उनके चार इमली स्थित निवास पर केन्द्रीय मंत्री व प्रदेश चुनाव प्रबंधन समिति के प्रदेश संयोजक नरेन्द्र सिंह तोमर ने मुलाकात की।

प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा ने कहा कि रियायती दरों पर पत्रकारों का स्वास्थ्य बीमा मुख्यमंत्री जी की एक अभिनव पहल रही है। उन्होंने स्वास्थ्य बीमा की बढ़ी हुई 27 प्रतिशत प्रीमियम राशि सरकार की ओर से वहन करने, बीमा की अंतिम तिथि 25 सितंबर तक बढ़ाने तथा 65 वर्ष से अधिक आयु के वरिष्ठ पत्रकारों एवं उनके जीवनसाथी की प्रीमियम सरकार की ओर से भरे जाने की जो घोषणा की है, उससे पत्रकारों को पिछले वर्ष की दरों पर ही स्वास्थ्य बीमा उपलब्ध हो सकेगा तथा वरिष्ठ पत्रकारों को राहत मिलेगी।

उन्होंने कहा कि मालवीय नगर में पत्रकार भवन की भूमि पर स्टेट मीडिया सेंटर के विकास से स्थानीय एवं बाहर से आने वाले पत्रकारों को भी सुविधा मिलेगी। इसके साथ ही मुख्यमंत्री जी ने पत्रकारों के लिए आर्थिक सहायता योजना की राशि भी दोगुनी से अधिक कर दी है। शर्मा ने कहा कि वरिष्ठ पत्रकारों के लिए दी जाने वाली सम्मान निधि में दोगुनी वृद्धि करके मुख्यमंत्री जी ने वास्तव में वरिष्ठ पत्रकारों के प्रति सम्मान ही प्रकट किया है।

प्रदेश अध्यक्ष शर्मा ने कहा कि मुख्यमंत्री जी ने छोटे शहरों और कस्बों के पत्रकारों को जो डिजिटल प्रशिक्षण दिलाने की बात कही है, उससे पूरे प्रदेश में पत्रकारों के काम में निखार आएगा और वे अपने व्यवसाय में आधुनिक तकनीक का प्रयोग कुशलतापूर्वक कर सकेंगे, जो समय की मांग भी है। इसके अलावा वरिष्ठ पत्रकारों के निधन पर जीवनसाथी को दी जाने वाली 8 लाख की एकमुश्त सहायता, आवास के लिए भूमि उपलब्ध कराना, तथा लोन पर ब्याज में राहत आदि सरकार के ऐसे कदम हैं, जो पत्रकारों की कठिनाइयों को कम करके उन्हें अपने काम पर ध्यान केंद्रित करने के लिए प्रेरित करेंगे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button