आज फोकस मेंक्विक फैक्ट्सजिला समाचार

मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना के लिए कैसे करें आवेदन? सरकार मुफ्त कराएगी तीर्थों की सैर


Mukhyamantri Tirth Darshan Yojana: मध्य प्रदेश की शिवराज सरकार प्रदेश के लोगों को तीर्थों की मुफ्त यात्रा करा रही है. इसके लिए सरकार ने मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना की चलाई हुई है. आइए जानते हैं कि इस योजना के लिए कैसे आवेदन करें और इसका लाभ लें.

Mukhyamantri Tirth Darshan Yojana: मध्यप्रदेश सरकार ने राज्य के लोगों को धार्मिक स्थलों की मुफ्त सैर कराने के लिए मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना (Mukhyamantri Tirth Darshan Yojana) की शुरुआत की है. इस योजना के तहत आज बालाघाट से श्रद्धालुओं को लेकर विशेष ट्रेनें द्वारका और सोमनाथ के लिए रवाना हुईं. वहीं भिंड जिले से 300 यात्रियों का जत्था अयोध्या और काशी के लिए रवाना हुआ है. तीर्थ यात्रा के दौरान श्रद्धालुओं के साथ डॉक्टरों की टीम, प्रशासनिक अधिकारी और सुरक्षा के लिए जवान भी साथ रहेंगे. इन यात्राओं का पूरा खर्च मध्य प्रदेश सरकार का धार्मिक न्यास और धर्मस्व विभाग से अनुबंधित IRCTC वहन करेगी.

कैसे करें आवेदन (How to Apply)
मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना के लिए आवेदन करने के लिए सबसे पहले आपको तीर्थ दर्शन पोर्टल की आधिकारिक वेबसाइट http://www.tirthdarshan.mp.gov.in पर लॉग इन करना होगा. होम पेज खुलने के बाद वहां ‘फॉर्म डाउनलोड करें’ का विकल्प मिलेगा. इस विकल्प पर क्लिक कर आप तीर्थ दर्शन योजना का फॉर्म डाउनलोड कर सकते हैं.
फॉर्म का प्रिंट आउट निकालने के बाद उसमें पूछी गई जानकारी को सही सही भरना होगा. फॉर्म भरने के बाद इसके साथ मांगे गए सभी जरूरी दस्तावेज अटैच करके तहसील, उप-तहसील कार्यालय, नगर पालिका, नगर निगम, जनपद पंचायत कार्यालय में जाकर जमा करना होगा.

इन दस्तावेजों की होगी जरूरत (Documents Required)
मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना के तहत आवेदन करने के लिए जिन दस्तावेजों की जरूरत होगी, उनमें आधार कार्ड, आयु प्रमाण पत्र, निवास प्रमाण पत्र, पासपोर्ट साइज फोटो शामिल हैं.

योजना के लिए आवेदन करने की शर्तें (who can apply)
मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना के तहत राज्य के बुजुर्ग, जिनकी उम्र 60 साल हो गई है, वह आवेदन कर सकते हैं. साथ ही 60 फीसदी से ज्यादा विकलांग और 65 साल से ज्यादा उम्र के बुजुर्ग अपने साथ एक व्यक्ति को देखभाल के लिए ले जा सकते हैं. आवेदक मध्य प्रदेश का मूल निवासी हो. महिलाओं को उम्र में 2 वर्ष की छूट दी गई है. यदि पति या पत्नी में से कोई एक तीर्थ यात्रा के लिए पात्र हैं तो उनके साथ उनके पति या पत्नी भी साथ जा सकते हैं फिर चाहे 60 साल के हैं या नहीं. जिन बुजुर्गों को टीबी, हार्ट की दिक्कत, मानसिक रोग, कुष्ठ रोग या कोई संक्रामक रोग है तो उन्हें यात्रा की अनुमति नहीं दी जाएगी.

इन तीर्थ स्थलों की कराई जाएगी सैर (Tirth darshan)
मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना के तहत सरकार श्री बद्रीनाथ, श्री केदारनाथ, शिरडी, श्री द्वारिकापुरी, श्री जगन्नाथ पुरी, अमरनाथ, वैष्णो देवी, हरिद्वार, तिरुपति, अजमेर शरीफ, काशी, गया, अमृतसर, रामेश्वरम, सम्मेद शिखर, श्रवणबेलगोला, वेलांकन्नी चर्च, श्री रामदेवरा जैसलमेर, गंगा सागर, गिरनार जी, पटना साहिब, रामदेवरा जैसलमेर, मध्य प्रदेश के तीर्थ स्थल जैसे उज्जैन, श्री राम राजा मंदिर, चित्रकूट, ओंकारेश्वर, महेश्वर और मुड़वारा आदि के दर्शन कराएगी.

Report

प्रोग्रेस ऑफ़ इंडिया न्यूज

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button