खेल

तीसरे T20 में आंद्रे रसेल का धमाल, वेस्टइंडीज ने आस्ट्रेलिया को 37 रन से हराया

Andre Russell's blast in the third T20, West Indies beat Australia by 37 runs

ऑस्ट्रेलिया और वेस्टइंडीज के बीच सोमवार (13 फरवरी) को तीन मैचों की टी20 सीरीज का अंतिम मुकाबला खेला गया। इस मैच में कैरिबियाई टीम ने 37 रनों से जीत हासिल की। हालांकि, ऑस्ट्रेलिया ने इस सीरीज को 2-1 से अपने नाम कर लिया। इस मुकाबले में वेस्टइंडीज के आंद्रे रसेल और शेरफेन रदरफोर्ड ने शानदार प्रदर्शन किया। दोनों के बीच 139 रनों की साझेदारी हुई जिसके दम पर विंडीज टीम का स्कोर 200 के पार पहुंच गया।

टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी वेस्टइंडीज की शुरुआत कुछ खास नहीं हुई थी। 79 रनों पर वेस्टइंडीज पांच विकेट खो चुकी थी। ऐसे में छठवें नंबर पर उतरे आंद्रे रसेल और सातवें पर बल्लेबाजी के लिए आए शेरफेन रदरफोर्ड टीम के लिए संकटमोचक साबित हुए। दोनों के बीच शानदार साझेदारी हुई। रसेल ने इस मुकाबले में 29 गंदों का सामना किया और 71 रन बनाए। 244.82 के स्ट्राइक रेट से इस खिलाड़ी ने चार चौके और सात छक्के जड़े। वहीं, रदरफोर्ड ने 40 गेंदों 67 रनों की नाबाद पारी खेली। इस दौरान उन्होंने पांच चौके और पांच छक्के लगाए। दोनों की इस साझेदारी के दम पर वेस्टइंडीज ने बोर्ड पर 220 रन टांगे।
कैरिबियाई टीम के द्वारा दिए गए लक्ष्य का पीछा करने उतरी ऑस्ट्रेलियाई टीम की तरफ से डेविड वॉर्नर के अलावा कोई भी बल्लेबाज कुछ खास प्रदर्शन नहीं कर पाया। सलामी बल्लेबाज ने 49 गेंदों में नौ चौके और तीन छक्के की मदद से 81 रन बनाए। वहीं, टिम डेविड ने 41 रनों की नाबाद पारी खेली। इस मुकाबले में कप्तान मिचेल मार्श सिर्फ 17 रन बना सके।
वेस्टइंडीज के लिए रोमारियो शेफर्ड ने और रोस्टन चेज ने 2-2 विकेट हासिल किए। इसके अलावा अकील हुसैन को एक सफलता मिली। ऑस्ट्रेलिया की टीम 20 ओवर में पांच विकेट खोकर सिर्फ 183 रन बना सकी। इसी के साथ वेस्टइंडीज ने सीरीज का तीसरा मुकाबला 37 रनों के अंतर से जीत लिया। रसेल को इस मुकाबले में धमाकेदार प्रदर्शन के लिए प्लेयर ऑफ द मैच चुना गया। वहीं, डेविड वॉर्नर इस सीरीज में प्लेयर ऑफ द मैच चुने गए।

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ रदरफोर्ड और रसेल के बीच छठे विकेट के लिए टी20 अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट की सबसे बड़ी साझेदारी हुई। टी20 क्रिकेट के इतिहास में अब तक ऐसा तीन बार हुआ है जब छठे विकेट के लिए 100 रन से अधिक की साझेदारी हुई है। 2010 में पहली बार ऑस्ट्रेलिया की तरफ से माइकल हंसी और कैमरन व्हाइट ने श्रीलंका के खिलाफ छठे विकेट के लिए नाबाद 101 रनों की साझेदारी निभाई थी। इसके बाद पीएनजी के दो खिलाड़ियों ने सिंगापुर के खिलाफ 115 रनों की भागीदारी की। अब ये रिकॉर्ड रदरफोर्ड और रसेल के नाम हो गया है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button