mp news

गर्मी ने दिन के साथ रात में भी दी दस्‍तक, ग्‍वालियर-चंबल अंचल में बूंदाबांदी की संभावना

Heat knocks during the day as well as at night, possibility of drizzle in Gwalior-Chambal region

दिन के साथ अब गर्मी ने रात में भी दस्तक दे दी है। रात का तापमान सोमवार को बढ़कर 19 डिग्री पर जा पहुंचा। जिसके कारण रात में गर्मी का अहसास हुआ और लोगों ने रजाई बांधकर रख दी हालांकि रात के समय चली हवा से राहत भी मिली। इससे पहले नौ वर्ष पूर्व 2016 में न्यूनतम तापमान 20.0 डिग्री पहंचा था। ठीक वैसे ही इस बार भी मौसम अपनी दास्तां दोहरा रहा है। क्योंकि 2016 में जब रात का तापमान अधिक पहुंचा था तो उसके दूसरे दिन बूंदाबांदी हुई थी जिसके कारण दिन व रात का तापमान नीचे आ गया था।
दिन के साथ अब गर्मी ने रात में भी दस्तक दे दी है। रात का तापमान सोमवार को बढ़कर 19 डिग्री पर जा पहुंचा। जिसके कारण रात में गर्मी का अहसास हुआ और लोगों ने रजाई बांधकर रख दी हालांकि रात के समय चली हवा से राहत भी मिली। इससे पहले नौ वर्ष पूर्व 2016 में न्यूनतम तापमान 20.0 डिग्री पहंचा था। ठीक वैसे ही इस बार भी मौसम अपनी दास्तां दोहरा रहा है। क्योंकि 2016 में जब रात का तापमान अधिक पहुंचा था तो उसके दूसरे दिन बूंदाबांदी हुई थी जिसके कारण दिन व रात का तापमान नीचे आ गया था।
मौसम वैज्ञानिक आरके शर्मा का कहना है कि आसमान में बादलों ने अपना डेरा जमा लिया है अब वह अगले दो दिन में गरज चमक के साथ बूंदाबांदी करा सकते हैं। जिससे दिन व रात के तापमान में कमी आएगी और वातावरण में ठंडक बढ़ेगी।
मंगलवार की सुबह आसमान में बादल रहे, लेकिन दिन चढ़ने के साथ ही धूप ने अपने तेवर दिखाने शुरू कर दिए। लेकिन दिन भर कभी धूप तो कभी बादल आसमान में दिखाई दिए। जिसका असर यह हुआ कि बीते रोज से अधिकतम तापमान 0.8 डिग्री घट गया और 31.6डिग्री पर रह गया।जबकि न्यूनतम तापमान में 6 डिग्री की बढ़ोत्तरी हुई और तापमान 19.0डिग्री पर जा पहुंचा। हवा में नमी सुबह के समय 53 फीसद रही जबकि दोपहर में 44 फीसद रही। हवा की रफ्तार सामान्य रही।
मौसम विभाग का कहना है कि आसमान में बादल घिरे हुए हैं। ग्वालियर चंबल अंचल में यह बूंदाबांदी करा सकते हैं। जिसमें अगले दो दिन में ग्वालियर, दतिया, भिंड ,मुरैना और श्योपुर में गरज चमक के साथ बूंदाबांदी हाे सकती है तो कुछ स्थानों पर ओलावृष्टि से इंकार नहीं किया जा सकता |
मौसम वैज्ञानिक का कहना है कि आसमान में बादल आने का कारण जम्मू कश्मीर में हो रही बर्फबारी है। जिसके कारण मिल रही नमी से बादल छा रहे हैं। लेकिन बीती रात को आसमान में बादल छाने से न्यूनतम तापमान बढ़ गया जिससे गर्मी हुई पर हवाएं चली जिससे नमी का स्तर घट गया। लेकिन मंगलवार की दोपहर के बाद आसमान में बादलों का जिस तरह से जमघट बढ़ा है उससे अनुमान लगाया जा रहा है कि रात के समय में गरज चमक के साथ बूंदाबांदी करा सकते हैं।

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button