mp news

तीन बड़े पटाखा कारोबारियों के लाइसेंस निरस्त करने की तैयारी

Preparations to cancel the licenses of three big firecracker traders

भोपाल | हरदा में पटाखा फैक्ट्री में हुए विस्फोट के बाद भोपाल में पटाखा कारोबारियों पर प्रशासन द्वारा सख्ती की जा रही है। पिछले दिनों प्रशासनिक अमले द्वारा किए गए निरीक्षण के दौरान कुछ प्रतिष्ठानों में निर्धारित मात्रा से अधिक आतिशबाजी सामग्री मिली थी। ऐसे तीन थोक पटाखा कारोबारियों के लाइसेंस निरस्त किए जाएंगे। इसके लिए कलेक्टर कौशलेंद्र विक्रम सिंह ने विस्फोटक नियंत्रक को पत्र लिखते हुए अनुशंसा की है। बता दें कि भोपाल जिले में जांच दल द्वारा सात फरवरी को सभी विस्फोटक, मैग्जिन, आतिशबाजी विनिर्माण स्थलों, थोक आतिशबाजी गोदाम एवं थोक आतिशबाजी स्थलों का औचक निरीक्षण किया था।
निरीक्षण के दौरान तीन थोक आतिशबाजी प्रतिष्ठानों पर लाइसेंस से अधिक आतिशबाजी सामग्री मिलने से सील करने की कार्रवाई की गई थी। अब इनका लाइसेंस निरस्त करने की कार्रवाई की जाएगी। जिनमें हलालपुर इंदौर रोड स्थित कालू पटाखा कोमल गोपलानी, बिशनदास जय दुर्गा पटाखा, संजय सोनी सोनी पटाखा शामिल हैं। जबकि दो थोक आतिशबाजी प्रतिष्ठानों पर लाइसेंसधारी द्वारा स्वयं कारोबार नहीं किए जाने और अन्य को कारोबार करने लाइसेंस देने पर लाइसेंस निरस्त किया जाएगा, जिनमें दौलतराम महादेव पटाखा, हंसकुमार मधुर फायर वर्क्स के नाम शामिल हैं।
ऐसे पटाखा कारोबारी जिनके प्रतिष्ठान घनी आबादी के पास है, रिटेल आउटलेट के पास हैं और स्टाक पंजी का संधारण नहीं किया गया है। इसके अलावा पटाखा गोदाम पर अनियमितताएं पाई गई हैं। ऐसे 20 कारोबारियों को कारण बताओ नोटिस जारी किए गए हैं। वहीं चार लाइसेंसधारी जो कई वर्षों से कारोबार नहीं कर रहे हैं। ऐसे चार कारोबारियों के लाइसेंस निरस्त किए जाएंगे।
पटाखा कारोबारी अरुण झंडा रातीबड़, संजीव शिवहरे परवलिया सड़क, दीपक माधवानी खादमपुर, स्वामी इंटरप्राइजेज हर्राखेड़ा सहित अन्य मैग्जिन, विस्फोट के आठ लाइसेंसधारियों के यहां अनियमितताएं पाई गई हैं। उनको भी कारण बताओ नोटिस जारी किए गए हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button