mp news

इकलौते बेटे की आंखें दान की,लोडिंग वाहन की टक्कर से हुई थी मौत

Donated eyes of only son, died due to collision with loading vehicle

इंदौर। सड़क हादसे में मृत युवक की आंखे दान की गई है। उसकी शनिवार रात सड़क हादसे में मौत हो गई थी। माता-पिता ने जैसे ही खबर सुनी बदहवास हो गए। रात में ही तय किया कि इकलौते बेटे की आंखे दान की जाएगी ताकि वह किसी और की दुनिया रोशन कर सके।
रावजी बाजार थाना क्षेत्र में शनिवार शाम 28 साल के राहुल हरीश बाघानी निवासी खातीवाला टैंक की मौत हो गई थी। राहुल के परिवार की रानीपुरा में साबुन की दुकान है। राहुल ट्रांसपोर्ट से बिल्टी लेकर स्कूटर से जा रहे थे।लोहा मंडी ब्रिज पर लोडिंग वाहन से आमने सामने टक्कर मार दी। स्कूटर दूर गिरा और लोडिंग शरीर पर चढ़ गया।काफी देर तक राहुल मौके पर पड़ा रहा और उसकी मौत हो गई। टक्कर मारने वाली गाड़ी को पुलिस ने जब्त कर लिया। शव को अस्पताल भिजवाया गया। राहुल की दो बहनें हैं जिनकी पिछले महीने ही शादी हुई है। राहुल इकलौता बेटा था। रात में तय किया कि राहुल की आंखें दान की जाएगी।
गांधीनगर थाना क्षेत्र में सफाईकर्मी ने फांसी लगाकर जान दे दी। आत्महत्या के पहले उसने पत्नी से झगड़ा किया था। पुलिस के मुताबिक 27 साल के योगेश पुत्र प्रकाश ने फांसी लगाई है। योगेश का पत्नी भारती से विवाद हो गया था। इसके बाद उसने फांसी लगा ली।
बाणगंगा थाना क्षेत्र में 9वीं की संदिग्ध अवस्था में मौत हो गई। पुलिस ने मर्ग कायम कर शव का पोस्ट मार्टम करवाया है। पुलिस के मुताबिक छात्रा का नाम हेमलता केवट निवासी कायस्थखेड़ी है। शनिवार को स्वजन उसे एमवाय अस्पताल लेकर आए। डाक्टर ने परीक्षन कर मृत घोषित कर दिया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button