mp news

दो पुलिसकर्मियों पर 3 लाख रुपए की रिश्वत लेने का आरोप, दो हेड कांस्‍टेबल निलंब‍ित

Two policemen accused of taking bribe of Rs 3 lakh, two head constables suspended

आगर मालवा। आगर कोतवाली थाने में पदस्थ दो हेड कांस्टेबल पर 3 लाख रुपये की रिश्वत लेने के आरोप का मामला सामने आया है। इसमें दोनों हेड कांस्टेबल द्वारा जमीन खरीदी बिक्री के मामले को लेकर फरियादी से 3 लाख की रिश्वत ली गई थी।
यह मामला जब आगर विधायक मधु गहलोत के कार्यालय तक पहुंचा तो आगर विधायक अपने कार्यकर्ताओं के साथ आगर पुलिस अधीक्षक के कार्यालय पहुंचे और धरना प्रदर्शन किया। इस दौरान दोनों हेड कांस्टेबल पर कार्रवाई और पैसे वापस लौटाने की मांग की गई।
इस दौरान विधायक व पुलिस अधीक्षक के बीच काफी देर तक बहस भी हुई। विधायक व भाजपा कार्यकर्ताओं के प्रदर्शन के दौरान आगर पुलिस अधीक्षक विनोद कुमार सिंह ने दोनों हेड कांस्टेबल को तत्काल प्रभाव से सस्पेंड करने की कार्रवाई की । मामले को जांच में लिया है।
बता दें कि फरियादी नरेंद्र सिंह ठाकुर पिता खुमान सिंह ठाकुर निवासी माली खेड़ी रोड आगर और हंसा बंसिया पिता गिरिराज बंसिया निवासी पाल रोड मास्टर कॉलोनी आगर ने जमीन खरीदी बिक्री में धोखाधड़ी के मामले में करीब 2 माह पूर्व आगर कोतवाली थाने पर एजाज खान पिता रहमान खान निवासी नरसिंह मंदिर रातोडिया तालाब के पास आगर के खिलाफ आगर कोतवाली थाने पर एक शिकायती आवेदन दिया था।
इसमें बताया गया था कि पुलिसकर्मी एजाज खान पर एफआईआर दर्ज नहीं कर रहे थे। पुलिस द्वारा एजाज खान पर प्रकरण दर्ज करने के बदले आवेदक से 3 लाख की मांग की जा रही थी। इसके बाद 15 मई 2024 को आवेदक द्वारा आगर कोतवाली थाने में पदस्थ हेड कांस्टेबल राधेश्याम कारपेंटर और हेड कांस्टेबल नरेंद्र सिंह भाटी को 3 लाख की रिश्वत दी गई।
इसके बाद पुलिस द्वारा 15 मई 2024 को एजाज खान के खिलाफ 420 का मामला दर्ज किया गया।इसके बाद आवेदक द्वारा पुलिस द्वारा इस तरह रिश्वत लिए जाने की बात बताई गई। तब आगर विधायक अपने प्रतिनिधियों और कार्यकर्ताओं के साथ आगर पुलिस अधीक्षक कार्यालय पहुंचे और धरना प्रदर्शन किया ।
विधायक द्वारा किए जा रहे धरना प्रदर्शन के दौरान आगर पुलिस अधीक्षक विनोद कुमार सिंह द्वारा दोनों हेड कांस्टेबल को तत्काल प्रभाव से सस्पेंड करने की कार्रवाई की गई और मामले की जांच कर पैसे वापस लौटाने की भी बात कही गई। विधायक ने मीडिया से चर्चा करते हुए कहा कि पुलिस द्वारा अगर 2 घंटे के भीतर पैसे वापस नहीं लौटाए गए तो इस मामले को सीएम तक पहुंचाया जाएगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button