समाचार

MP में मिशन मोड पर शुरू हुआ विकास कार्य, सीएम शिवराज सिंह चौहान ने 215 करोड़ के कार्यों का किया भूमिपूजन, 76 गांवों को मिलेगा लाभ

सीएम शिवराज सिंह चौहान ने विपक्ष पर निशाना साधते हुए कहा है जमीनों पर कब्जा करने वाले लोगों को दिग्विजय और कांग्रेस की सरकार आदि का समर्थन है लेकिन 21000 एकड़ जमीन गुंडों से छुड़ाई गई है। गुंडों पर कार्रवाई की जाएगी। सीएम शिवराज ने स्पष्ट कहा है कि कमलनाथ और दिग्विजय सिंह चाहे जितना गुंडों का समर्थन कर ले, गुंडों पर कार्रवाई की जाएगी। मध्यप्रदेश में कब्जा धारी गुंडों को नहीं बख्शा जाएगा।

मध्यप्रदेश में एक तरफ जहां सीएम शिवराज लगातार सभी विभागों की बैठक ले रहे हैं। दूसरी तरफ मिशन मोड में परियोजना कार्य को संपन्न किया जा रहा है। बड़े स्तर पर अधिकारी कर्मचारियों को निर्देश दिए जा रहे। इसी बीच एक बार फिर से सीएम शिवराज ने 215 करोड़ रुपए के विकास कार्यों का भूमि पूजन किया है। साथ 91 करोड़ रुपए के प्रोजेक्ट की शुरुआत की गई है। जिसके कारण 76 गांव को पानी का लाभ मिलेगा।

बिछाई जाएगी 190 किलोमीटर पाइप लाइन 

91 करोड़ों रुपए के प्रोजेक्ट की शुरुआत करने के साथ सीएम शिवराज ने भूमि पूजन किया है। इससे डेढ़ लाख आबादी को पानी मिलेगा। शायद ही 190 किलोमीटर पाइप लाइन बिछाई जाएगी। इतना ही नहीं टंकियों की मदद से पानी को गांव-गांव पहुंचाया जाएगा।

215 करोड़ के विकास परियोजना को मंजूरी

राजधानी भोपाल के केरवा डैम के पास के गांव में हर साल पानी की समस्या देखी जाती है। 40 साल से यहां की आबादी पेयजल की समस्या से ग्रसित है। जिस पर अब सीएम शिवराज द्वारा प्रोजेक्ट की शुरुआत कर इसका भूमि पूजन किया गया है। इसके अलावा नीलबर्ड में आयोजित कार्यक्रम में पेयजल लाइन समेत कुल 215 करोड़ के विकास परियोजना को मंजूरी दी गई।

निशुल्क रहने का पट्टा प्रदान किया जाएगा

इस दौरान सीएम शिवराज ने कहा कि नीलबड़ में टंट्या मामा की मूर्ति लगाई जाएगी। साथ ही जिसके पास रहने के लिए भूमि नहीं है. 4 जनवरी 2023 से इसके लिए अभियान चलाया जाएगा और आवेदन के आधार पर निशुल्क रहने का पट्टा प्रदान किया जाएगा। इतना ही नहीं मुख्यमंत्री आवास अधिकार योजना के तहत निर्धन वर्ग को भूमि आवंटित की जाएगी। इसके अलावा शहरी क्षेत्र लंबे समय से रहने वाले कब्जाधारी को पक्का मकान बनाकर देने की योजना भी शुरू की जाएगी।

PM आवास योजना पर 60 करोड़ रुपए खर्च करने की तैयारी

विधायक रामेश्वर शर्मा ने बताया कि 215 करोड रुपए के कार्यों का भूमि पूजन किया गया है। जिनमें केरवा ग्रामीण पेयजल परियोजना में 91 करोड़ रुपए खर्च होंगे। इसके अलावा प्रधानमंत्री आवास योजना पर ₹60 करोड़ रुपए खर्च करने की तैयारी की गई है। साथ ही नीलबड़ से बढ़झिरी तक फोरलेन सड़क निर्माण किया जाएगा, जिसके लिए ₹40 करोड़ रुपए खर्च होंगे। इतना ही नहीं 24 करोड रुपए सड़कों के निर्माण पर खर्च किए जाएंगे। इसके अलावा केरवा ग्रामीण पेयजल परियोजना में जल जीवन मिशन के अंतर्गत 76 गांव में हर घर नल से जल पहुंचाने का लक्ष्य रखा गया है। 24 महीने में इस कार्य को पूरा किया जाएगा।

स्काडा सिस्टम के माध्यम से पूरी योजना पर मॉनिटरिंग

इतना ही नहीं 50,000 से ढाई लाख लीटर की 14 नई और 29 पुरानी टंकी को योजना में शामिल किया गया है। 190 किलोमीटर पाइप लाइन बिछाई जाएगी। योजना आधुनिक रूप से लैस होगी। साथ ही स्काडा सिस्टम के माध्यम से पूरी योजना पर आसानी से मॉनिटरिंग की जा सकेगी। 76 गांव को फायदा होगा, उसमें आमला, अमरपुरा, अमरावत, कलाम, बकानिया, बंदोरी, फतेहपुर, दुबली, कजलास, कल खेड़ा, कालापानी, खजूरी, सड़क, खारपा, लखापुर ,मुगालिया छाप ,मुंडला आदि शामिल हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button