राज्य

विधानसभा में पेश हुआ अनुपूरक बजट, कृषक उन्नति योजना से किसानों को मिलेगी अंतर की राशि

Supplementary budget presented in the Assembly, farmers will get the difference amount from Krishak Unnati Yojana

छत्तीसगढ़ विधानसभा का द्वितीय सत्र (बजट सत्र) राज्यपाल विश्वभूषण हरिचंदन के अभिभाषण के साथ सोमवार को शुरू हुआ. राज्यपाल के अभिभाषण के बाद वित्त मंत्री ओपी चौधरी ने तीसरा अनुपूरक बजट पेश किया. विपक्ष के हंगामे के बीच सदन की कार्यवाही को मंगलवार तक के लिए स्थगित कर दी गई. अनुपूरक बजट में राज्य सरकार ने कई प्राविधान किया है. इसमें राज्य सरकार की अयोध्या श्री राम लला दर्शन योजना के लिए 15 करोड़ का प्रावधान किया गया है. वहीं, धान उत्पादक किसानों को अंतर की राशि देने के लिए अनुपूरक बजट में 1200 करोड़ रुपये रखा गया है.

सदन से बाहर आने के बाद मीडिया से चर्चा करते हुए वित्त मंत्री ओपी चौधरी ने कहा कि नौ फरवरी को छत्तीसगढ़ का मूल बजट पेश किया जाएगा. यह छत्तीसगढ़ के लिए ऐतिहासिक बजट होगा. आज तृतीय अनुपूरक बजट पेश किया गया है. इसमें जनता के अपेक्षा के अनुरूप विभिन्न प्रावधान किए गए है. महतारी वंदन योजना को लेकर मंत्री चौधरी ने कहा कि मोदी की गारंटी के तहत विष्णु देव साय सरकार ने क्रांतिकारी कदम उठाते हुए महतारी वंदन योजना को लागू करने का निर्णय लिया है. इसके तहत महिलाओं को प्रतिवर्ष 12 हजार रुपये दिए जाएंगे. इससे महिला सशक्तिकरण होगा और परिवार का भी विकास होगा. शासन ने नियमों को शिथिल कर दिया है. ग्रामीण इलाकों में कई दस्तावेज आसानी से उपलब्ध नहीं होते उनके स्थान पर विकल्प के तौर पर व्यवस्था की गई.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button